MOSFET in hindi- mosfet कया है in hindi. 

मेरे प्यारे दोस्तों कैसे है आप आज में आपको MOSFET in hindi- mosfet कया है in hindi. इसके बारे में कुछ जानकारी देने वाला हूँ तो चलिए आज का topic शुरू करते है।


MOSFET कया है in hindi:-

MOSFET का full form यांनी MOSFET का पुरा नाम मेटल ऑक्साइड सेमीकंडक्टर फिल्ड इफेक्ट ट्रांजिस्टर है यह एक चार टर्मिनल वाला सेमीकंडक्टर डिव्हाइस है MOSFET 100 kHz तक की frequencies पर switching कार्य करने में सक्षम है यह  transistor के क्षमता से कहीं अधिक है। 


इसे इलेक्ट्रॉनिक आैर अन्य जगहों पर switching आैर amplified का कार्य करने में इस्तेमाल किया जाता है यह ट्रांजिस्टर से मिलता जुलता है।


इसके टोटल चार लिअर होते हैं n+, p, n-, n+ जिससे एक जंक्शन तैयार होता है उसका गेट टर्मिनल silicon oxide (sio2) से जुडा होता है इसके मुख्य तीन ही टर्मिनल है source, gate, drain इसमें Sio2 leyer के साथ-साथ drift leyer भी रहता है।


Structure of MOSFET in hindi:-

Structure of MOSFET in hindi

उपर दिये गये आकृती में बेेेसिक  structure of mosfet दियाखा गया है जिसमें चार लियर है n+, p, n-, n+ जिससे एक  जंंक्शन तयार  तयार होता है। main structure में चार टर्मिनल हैैैै गेेेट  टर्मिनल उसका मुख्य टर्मिनल होता है p उसका body leyer  है और n depletion leyer हैैै आकृृती में दिखाया structure vertical हैै।


Symbol of MOSFET in hindi. 

इसके दो types के symbol होते है पहला  types है n channel MOSFET आैर दुसरा p channel MOSFET.


१). n- channel MOSFET:
n- channel MOSFET

२). c- channel MOSFET:

c- channel MOSFET

Operation-मॉस्फेट कार्यविधि इन हिंदी:-

MOSFET का काम source आैर drain के बिच का जो करंट हे उसे कंट्रोल करना होता है इसके काम करने की Capacity उसके mos capacitor पर निर्भर करती हैं।



Basically MOSFET switching  का काम करता है हमने अगर mosfet के positive terminal को supply दिया तो वह सिधे MOSFET के अंदर जायेगा आैर जो अंदर का diode होता है वह उसे रोक लेगा यैसा होने से हमें output नहीं मिलेगा। 

उसका जो गेट टर्मिनल होता है उससे हम supply triggered देते हैं तब वह switching का काम करता है। जैसे कि मैंने आकृती में दिखाया है।
Operation-मॉस्फेट कार्यविधि इन हिंदी

gate triggered not applied
gate triggered not applied
Gate triggered Applied
Gate triggered Applied

Types of MOSFET-मॉस्फेट के प्रकार in hindi:-

मॉस्फेट मुख्य तौर पर दो प्रकार के होते हैं पहला है depletion types MOSFET आैर दुसरा है enhancement types MOSFET. इनमें और two types के MOSFET है।


पहला है p channel MOSFET और दुसरा है  n channel MOSFET P- channel यांनी positive channel MOSFET और n channel यांनी Negative channel MOSFET यह positive negative कयु है। कयुकी एक को positive gate triggered की जरूरत होती है और दूसरे को negative triggered की। 


Depletion types MOSFET:
  1. p-channle MOSFET. 
  2. n-channle MOSFET
Enhancement types MOSFET:
  1. p-channle MOSFET. 
  2. n-channle MOSFET. 

Features of power MOSFET in hindi. 
  • low इनपुट करंट। 
  • वोल्टेज कंट्रोल डिव्हाइस। 
  • switching करने की speed high. 

Application:
  • जादा frequency वाले inverter। 
  • industrial control. 
  • solenoid. 
  • display driver. 
  • मोटर कंट्रोल। 
  • SMPS डिव्हाइस। 
  • रेडियो  frequency पावर amplifiers.
                 
निवेदन: दोस्तों आपको यह topic  MOSFET in hindi- mosfet कया है in hindi पसंद आया है तो कमेंट करें और आपने दोस्तों के साथ शेअर जरुर करें।